Sai Katha
Sai Katha Sai Katha

Shree Sai Katha Official Blog

Shree Sai Katha

Saturday, 5 July 2014

श्री साईं आप सबका कल्याण करें 

Friday, 27 June 2014

Tuesday, 17 June 2014

सच्चे भजन-ध्यान में लगने वाले विरले ही निकलते है

सच्चे भजन-ध्यान में लगने वाले विरले ही निकलते है । एकान्त में निवासकर भजन-ध्यान करना बुरा नहीं है । परन्तु यह साधारण बात नहीं है । इसके लिए बहुत अभ्यास की आवश्यकता है और यह अभ्यास कर्म करते हुए ही क्रमश: बढ़ाया और गाढ़ किया जा सकता है, इसलिए भगवान ने कहा है की नित्य-निरन्तर मेरा स्मरण करते हुए फलासक्तिरहित होकर मेरी आज्ञा से मेरी प्रीति के लिए कर्म करना चाहिए ।